Categories: देश

मोदी सरकार 2.0 इन मोर्चो पर पूरी तरह हुई फेल, दंगे, बेरोजगारी और जीडीपी सबने खोली पोल

मोदी 2.0 का पहला साल आज पूरा हो चुका है, अगले चार साल में यह किस तर काम करेगा, यह तो देखने वाली बात होगी। लेकिन पहले साल में मीद सरकार की छवि पर बहुत गहरा प्रभाव पड़ा है। सरकार के कुछ निर्णय बहुत ही सराहनीय रहे, तो कुछ फैसलो और घटनाओं पर विदेशों में भारत की छवि खराब हुई (PM MODI FAILURE LIST IN FIRST YEAR)। आइए जानते हैं कौन से फैसलों का देश पर क्या पड़ा असर।

नेपाल और भारत के रिश्ते हुए खराब (PM MODI FAILURE LIST IN FIRST YEAR)

नेपाल और भारत के बीच लिपुलेख को लेकर विवाद शुरू हुआ। दरअसल उत्तराखंड का एक हिस्सा जिस पर भारत अपना हक जताता है, तो नेपाल अपना हक जताता है। अब इसी मुद्दे ने तुल पकड़ी है जिससे नेपाल और हमारे देश के रिश्तों में कुछ खटास आने लगी है।

दिल्ली दंगो और नागरिकता संशोधन कानून पर खराब हुई छवि

मोदी सरकार के पाकिस्तान को आतंकवाद फैलाने पर अंतराष्ट्रीय स्तर पर घेरा गया जिसमे भारत को कामयाबी मिली। लेकिन धारा 370 और नागरिकता संशोधन के मामले में भारत का अंतराष्ट्रीय स्तर पर थोड़ा विरोध भी हुआ। वंही दिल्ली के दंगों ने पुलिस की भूमिका पर भी सवाल उठाए। ज्ञात हो की दंगों के समय अमेरिकी राष्ट्रपति भी भारत दौरे पर ही थे।

धरनों पर नहीं हुआ कोई फैसला

नागरिकत संशोधन कानून को वापिस लेने के लिए हो रहे धरनों को कोरोना के चलते ही हटाया गया। इससे पहले सरकार की तरफ से कोई कोशिश नही की गई। इस पर भी मोदी सरकार की अंतराष्ट्रीय स्तर पर काफी फजीहत हुई।

जीडपी का हुआ बुरा हाल

कोरोना से पहले ही देश की जीडीपी गोते खाती दिखाई दे रही थी। बताया जा रहा है कि जीडीपी बीते 11 साल में सबसे कम स्तर पर पंहुच गई थी। अब कोरोना के बाद तो जीडीपी के नेगेटिव में जाने का अनुमान लगाया जा रहा है। कोरोना से पहले ही एक सर्वे भी सामने आया था जिसमे बताया गया था कि देश में बेरोजगारी को 45 साल में सबसे ऊंचे स्तर पर बताया गया था।

हेल्थ सेक्टर में भी खराब हुई स्थिति

हेल्थ सेक्टर का बुरा हाल है। भारत हेल्थ सेक्टर में जीडीपी का कुल 2 प्रतिशत ही खर्च करता है।  विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार हेल्थ सेक्टर में जीडीपी का सबसे कम खर्च करने वाले देशों में 184 वे स्थान पर आता है, इसमें कुल 191 देश शामिल हैं।

महंगाई दर बढ़ा

देश में महंगाई भी बीते कई सालों से लगातार बढ़ती जा रही है। दिसंबर 2019 के बाद से ही यह और बढ़ गई है। दिसंबर में मंहगाई दर 14.12 प्रतिशत पर पंहुच गई है।

Nishant

Recent Posts

UP Bhulekh | यूपी ऑनलाइन खसरा खतौनी नकल, जमाबंदी देखें! @upbhulekh gov

UP Bhulekh को कहीं अलग अलग नामों से भी जाना जाता है, जैसे खेत का…

3 months ago

PM Kisan Samman Nidhi Yojana List | किसान सम्मान निधि लाभार्थी सूची 2020 ऑनलाइन देखें @pmkisan gov

देश की आर्थिक व्यवस्था को बनाए रखने में किसानों का बहुत बड़ा योगदान रहा है।…

3 months ago

प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना ऑनलाइन आवेदन | PMSYM Yojana 2020 Apply Online, Registration Form

श्री नरेंद्र मोदी ने देश के असंगठित क्षेत्र के लोगों को राहत पहुंचाने के लिए…

3 months ago

बिहार राशन कार्ड लिस्ट 2020 | जिलेवार बिहार राशन कार्ड लाभार्थी सूची ऑनलाइन देखें, डाउनलोड करें

Bihar Ration Card बिहार सरकार के द्वारा जारी किया गया एक Document है। यह राशन…

3 months ago

सुशांत सिंह राजपूत की मौत पर बन रही फिल्म का फर्स्ट लूक आया सामने, इसी साल हो सकती है रिलीज

एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद से ही बहुत सी बातें खुल कर…

3 months ago

‘सुशांत की मौत पर एक भी दावा झूठा साबित हुआ तो अपना पद्मश्री लौटा दूंगी’ – कंगना रनौट

एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद से ही बॉलीवुड की दबंग अदाकारा कंगना…

3 months ago

This website uses cookies.